How to Become a Pharmacist in Indian Navy: Detailed Guide

Indian Navy में फार्मासिस्ट कैसे बने: विस्तृत गाइड

Latest Job

परिचय:

सो हाय एवरीवन एंड वेलकम टू माय चैनल बीइंग फार्मासिस्ट। यदि आप पहली बार हमारे चैनल पर आ रहे हैं, तो चैनल को सब्सक्राइब करना न भूलें और आने वाले वीडियो अपडेट्स के लिए बेल आइकॉन को जरूर प्रेस करें। आज का वीडियो इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट बनने के तरीके पर है।

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट बनने का तरीका:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट के रूप में शामिल होना एक प्रतिष्ठित करियर विकल्प है। इस वीडियो में, हम आपको यह बताएंगे कि इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट कैसे बन सकते हैं, इसके लिए क्या आवश्यकताएं हैं और इसका प्रोसेस क्या है।

      
                    WhatsApp Group                             Join Now            
   
                    Telegram Group                             Join Now            

शैक्षिक योग्यता:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट बनने के लिए कुछ बुनियादी आवश्यकताएं होती हैं:

  1. मैट्रिकुलेशन और 12वीं पास: उम्मीदवार को मैट्रिकुलेशन या इसके समकक्ष होना चाहिए।
  2. फार्मेसी डिग्री: डी फार्मा या बी फार्मा की डिग्री आवश्यक है।
  3. फार्मेसी काउंसिल से रजिस्ट्रेशन: उम्मीदवार को राज्य फार्मेसी काउंसिल के साथ रजिस्टर्ड होना चाहिए, जो फार्मेसी एक्ट 1948 के अंतर्गत आता है।

आयु सीमा:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट पद के लिए अधिकतम आयु सीमा 56 वर्ष है, जो इसे एक उत्कृष्ट अवसर बनाता है।

वेतन और भत्ते:

फार्मासिस्ट के पद का ग्रुप सी नॉन-गैजेटेड, नॉन-मिनिस्ट्रियल और नॉन-इंडस्ट्रियल होता है। इसका वेतनमान 29200 से 92300 के बीच होता है।

जॉब डिस्क्रिप्शन:

फार्मासिस्ट के कार्यों में निम्नलिखित शामिल होते हैं:

  • दवाइयों का भंडारण और प्रबंधन।
  • दवाइयों की स्टॉक देखना।
  • दवाइयों का वितरण।
  • इमरजेंसी सिचुएशंस को संभालना।
  • रिकॉर्ड्स को मेंटेन करना।

रिक्रूटमेंट प्रोसेस:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट की भर्ती प्रोसेस इस प्रकार होती है:

  1. ऑफलाइन फॉर्म भरना: उम्मीदवार को ऑफलाइन फॉर्म भरना होता है।
  2. फिजिकल फिटनेस टेस्ट: फार्मासिस्ट के लिए कोई विशेष एंडोरेंस टेस्ट नहीं होता है, लेकिन फिजिकल फिटनेस टेस्ट जरूरी होता है, जिसमें हाइट, वेट, और आई ग्लासेस की जांच की जाती है।
  3. डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन: फिजिकल फिटनेस टेस्ट पास करने के बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जाता है।
  4. प्रोफेशनल अलॉटमेंट लेटर: डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद प्रोफेशनल अलॉटमेंट लेटर जारी किया जाता है। एक बार प्रोफेशनल अलॉटमेंट लेटर जारी होने के बाद, उम्मीदवार इस जॉब को छोड़ नहीं सकता।
  5. जॉइनिंग लेटर: डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और मेडिकल एग्जामिनेशन के बाद जॉइनिंग लेटर जारी किया जाता है और उम्मीदवार इंडियन नेवी में शामिल हो जाता है।

चयन प्रक्रिया:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट की चयन प्रक्रिया में लिखित परीक्षा नहीं होती है। सामान्यत: यह भर्ती डायरेक्ट इंटरव्यू और फिजिकल फिटनेस टेस्ट के आधार पर होती है।

कैसे अपडेट रहें:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट की जॉब पाने के लिए उम्मीदवारों को निम्नलिखित पर ध्यान देना चाहिए:

  • इंडियन नेवी की ऑफिशियल वेबसाइट के करियर पेज को नियमित रूप से चेक करें।
  • विभिन्न जॉब रिक्रूटमेंट वेबसाइट्स और अखबारों में अपडेट्स देखें।
  • यूट्यूब चैनल्स और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी अपडेट्स देखें।

निष्कर्ष:

इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट बनना एक सम्मानजनक और लाभकारी करियर विकल्प है। इसके लिए उम्मीदवार को निर्धारित शैक्षिक योग्यता और शारीरिक मापदंडों को पूरा करना होता है। उम्मीद है कि इस वीडियो से आपको इंडियन नेवी में फार्मासिस्ट बनने की पूरी जानकारी मिल गई होगी।

धन्यवाद!

लेखक: Prateek Dhiman

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *